साहिबगंज

मोती झरना स्थित शिव मंदिर में बाबा भोलेनाथ के दर्शन को श्रद्धालुओं की उमड़ी भीड़।

सावन के अंतिम सोमवार पर भक्तगण पूजा अर्चना को पहुंच रहे हैं मोदीनाथ धाम एवं शिवगादि धाम।

श्रावण मास की आज अंतिम सोमवारी है इस अवसर पर मोती झरना स्थित मोतीनाथ धाम में बाबा भोलेनाथ के दर्शन करने के लिए श्रद्धालुओं एवं कांवरियों की भारी भीड़ उमड़ी है।

सावन के महीने में 30 दिनों तक चलने वाले श्रावणी मेला अपने अंतिम पड़ाव में पहुंच चुका है। जहां पूरे महीने श्रद्धालुओं एवं कांवरियों की भीड़ जिले के मोतीनाथ धाम एवं बरहेट स्थित शिवगादी धाम में उमड़ती है।
राज्य के कई राज्यों से आए श्रद्धालु अपनी आस्था के अनुसार बाबा पर जल अर्पण करते हैं तथा उनकी विधिवत पूजा अर्चना करते हैं। दूरदराज से लोग जल भरकर पैदल बाबा के दर्शन को आते हैं और भोलेनाथ से मनोकामना मांगते हैं। आस्था का यह प्रचलन वर्षों पुराना है परंतु विशेष रूप से सावन के हर सोमवार को यहां भक्तों का जनसैलाब दर्शन के लिए आता है।

विगत 02 वर्षों से पूरा देश राज्य एवं जिला कोरोना संक्रमण प्रभावित रहा है तथा वर्ष 2022 में आम जनजीवन पटरी पर आ रहा है ऐसे में बाबा के दर्शन के लिए भक्तों को लंबा इंतजार करना पड़ा है। इस बार कांवरियों एवं श्रद्धालुओं लंबी दूरी तय कर बाबा भोलेनाथ के दर्शन एवं उनकी पूजा के लिए आ रहे हैं आज सावन के अंतिम सोमवार को भी मोती नाथ धाम में ऐसा ही नजारा देखने को मिल रहा है। जहां लोग भक्ति में रमे हुए बाबा के दर्शन के लिए आ रहे हैं ऐसे खास मौके पर जिला प्रशासन ने श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए कई व्यवस्थाएं की है।
मोतीनाथ धाम एवं शिवगादि धाम में पूजा समिति ने भी श्रद्धालुओं के लिए विवेश विशेष व्यवस्थाएं रखी है आज मोती झरना स्थित शिव मंदिर के पास पूजा समिति द्वारा श्रद्धालुओं के बीच शरबत एवं फल परोसा गया।

उपायुक्त रामनिवास यादव ने जिले वासियों को सावन की अंतिम सोमवार की बधाई दी है । उन्होंने कहा कि भक्तगण कतारबद्ध होकर जाएं एवं अपनी पूजा अर्चना संपन्न करें। इस बीच उन्होंने पूजा समिति को पूरे सावन महीने में भक्तों की सुविधाओं के लिए तत्पर रहने एवं जिला प्रशासन की सहायता करने के लिए भी धन्यवाद दिया है।

Related Articles

Close
Close