HINDI Newsछिंदवाड़ा रेंजमध्य प्रदेश

चौरई के ग्राम कौआखेड़ा में गन्ने के खेत में दिखा बाघ, ग्रामीणों में दहशत

In search of prey, tiger came to the village and hunt a cow calf | गन्ने के  खेत में दिखा बाघ, ग्रामीणों में दहशत - दैनिक भास्कर हिंदी

शुक्रवार शाम खेत से लौटते समय किसान ने देखा, सूचना पर वन अमला व पुलिस बल पहुंचा।

 पिछले 10 दिनों से छिंदवाड़ा रेंज के कई क्षेत्रों में बाघ के पगमार्ग मिले हैं, जिसके बाद से वन अमला लगातार क्षेत्र में गश्त कर रहा है। चांद मार्ग पर ग्राम धगड़िया में यह बाघ (जिसकी उम्र तकरीबन तीन वर्ष होगी) कैमरे में भी कैद हुआ था, जिसके बाद से लगातार वन अमला क्षेत्र में बाघ की लोकेशन जानने में जुटा हुआ है। शुक्रवार को बाघ के पगमार्ग ग्राम सरई में नजर आए थे, लेकिन उसकी लोकेशन पता नहीं चल पाई थी।

शुक्रवार की शाम बाघ की लोकेशन चौरई के ग्राम कौआखेड़ा में मिली। शाम को खेत से वापस लौट रहे कौआखेड़ा निवासी किसान राजेंद्र ने बाघ को गन्ने के खेत से निकलते देखा। हल्ला मचाने पर खेत के समीप गांव के लोग एकत्रित हो गए। सूचना के बाद वन अमला तथा चांद पुलिस मौके पर पहुंचे। इस दौरान बाघ गन्ने के खेत में ही था। रात होने के कारण वन अमला क्षेत्र में कैमरे नहीं लगा पाया। बाघ देखे जाने के बाद से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है।

शनिवार सुबह से क्षेत्र में वन अमला गश्त में जुट गया। हालांकि इस क्षेत्र में बाघ ने किसी पालतू जानवर को अपना शिकार नहीं बनाया है, पर वन विभाग के दस्‍ते ने लोगों को अलर्ट रहने के लिए कहा है।

गौरतलब है कि चौरई क्षेत्र से पेंच नेशनल पार्क लगा हुआ है, जिसके कारण इस क्षेत्र में बाघ की लोकेशन ट्रैक हो रही है। पूर्व में भी पेंच नेशनल पार्क के बाघ क्षेत्र में दिखाई दिए है, जो कुछ समय बाद वापस अभयारण्‍य में चले जाते हैं

 

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close